Movie Review

Exclusive Interview | अपूर्वा अरोड़ा का मजेदार खुलासा, कहा- एग्जाम देने की खातिर कॉलेज में किया था ऐसा नाटक | Navabharat (नवभारत)


अपूर्वा अरोड़ा (Photo Credits: Instagram)

अपूर्वा अरोड़ा (Photo Credits: Instagram)

हिंदी समेत कई भाषाओं की फिल्मों में अपनी अदाकारी से दर्शकों का दिल जीतने वाली अभिनेत्री अपूर्वा अरोड़ा ने ओटीटी प्लेटफोर्म पर भी अपने शोज से दर्शकों का खूब मनोरंजन किया।

मुंबई: हिंदी समेत कई भाषाओं की फिल्मों में अपनी अदाकारी से दर्शकों का दिल जीतने वाली अभिनेत्री अपूर्वा अरोड़ा ने ओटीटी प्लेटफोर्म पर भी अपने शोज से दर्शकों का खूब मनोरंजन किया। वें जल्द ही सोनी लिव पर रिलीज होने जा रहे हिट शो ‘कॉलेज रोमांस सीजन 3’ में एक नई और मजेदार कहानी के साथ ऑडियंस के बीच लौट रही हैं। हाल ही में अपूर्वा ने इस शो को लेकर नवभारत से विशेष बातचीत की जहां उन्होंने कई दिलचस्प खुलासे किये। पेश है इस बातचीत के कुछ अंश-

  • इस शो के पहले दो पार्ट दर्शकों को खूब पसंद आए हैं, पार्ट-3 को लेकर कितनी नर्वस हैं?

कॉमेडी बेहद सीरियस बिजनस है और किसी को भी हंसाना बेहद मुश्किल काम है। शो के पहले दो सीजन ने दर्शकों का भरपूर मनोरंनज किया और ऐसे में ये एक जिम्मेदारी भी थी कि अब इसके तीसरे पार्ट में हम ऑडियंस को वहीँ एंटरटेनमेंट दे सकें। दर्शकों को हमसे काफी उम्मीदें हैं कि हम कुछ अलग और दिलचस्प लेकर आएंगे। ऐसे में थोड़ा नर्वस जरूर महसूस होता है।

  • आज के युग में एक कलाकार में एक्टिंग के साथ मार्कटिंग स्किल्स होना भी जरुरी हैं, इस बात से कितनी सहमत हैं?

जितनी तेजी से वक्त बदल रहा है उतनी ही तेजी से ऑडियंस और कंटेंट का स्तर भी बदल रहा है। एक आर्टिस्ट के रूप में हम पर परफॉर्म करने का प्रेशर तो होता है लेकिन आज जब अपनी फिल्म या सीरीज को प्रमोट करने निकलते हैं तो मीडिया कैमरे के साथ बात करना भी उतना ही बड़ा चैलेंज होता है।

  • आपके करियर को बढ़ावा देने में ओटीटी काफी अहम रहा है, इस प्लेटफॉर्म को कितना महत्वपूर्ण मानती हैं?

मैंने एक फीचर फिल्म के साथ अपने करियर की शुरुआत की थी। इसके बाद मैंने कुछ प्रचार में भी काम किया। मैंने किसी भी काम को कभी ना नहीं कहा और हर तरह के प्लेटफॉर्म को महत्त्व दिया। इसके चलते लोग मेरे टैलेंट को पहचानने लगे। लोग आपको काम तब भी देंगे जब आप खुद को कला और आर्थिक, दोनों ही रूप से एक फायदेमंद एक्टर के तौर पर साबित कर दें। ओटीटी ने मुझे ऐसा करने में काफी मदद किया और इसकी सफलता ने मेरे करियर का सफल मार्ग भी प्रशस्त किया।

  •  नायरा का किरदार कितना दिलचस्प और मजेदार होगा?

नायरा का किरदार मेरे लिए काफी मुश्किल भी था और सीरीज में इसका रोल कुछ ऐसा है जहां वो भावनात्मक रूप से काफी परेशान होती है। मुझे इस रोल से बेहद प्यार है। नायरा ऐसी है जो भीतर से बच्ची है और लोग उससे रिलेट कर पाएंगे।

  • संघर्ष के दिनों में मुंबई जैसे शहर में सरवाइव करना कितना मुश्किल था?

वो दिन काफी चैलेंजिंग रहे हैं और मैं इस मामले में थोड़ी भाग्यशाली रही हूं क्योंकि मेरे पेरेंट्स ने मुझे काफी सपोर्ट किया। मैं एक साधारण मिडिल क्लास फॅमिली से आती हूं और मेरे संगह्र्ष के दिनों में मेरे माता-पिता ने मेरा साथ नहीं छोड़ा और हमेशा इस बात का ख्याल रखा कि मुझे किसी चीज की कमी न हो और ना ही मुझे कोई ऐसा काम उठाना पड़े जो सिर्फ पैसों के लिए हो। aaj जो कुछ भी मैं हासिल कर पाई हूं, वो अपनी मेहनत और अपने पेरेंट्स के सपोर्ट से।

  • कॉलेज के दिनों का कोई मजेदार किस्सा जो आप आज भी याद करके हंसती हैं?

मुझे याद है कि जब मैं इस शो के सीजन-1 के लिए शूट कर रही थी तब मैं कॉलेज मैं थी और शूट के कारण मेरी परीक्षा भी छुट गई थी। मैंने सोचा जैसे-तैसे बची हुई परीक्षा तो मुझे अटेंड करनी है। जब मैं एग्जाम देने पहुंची तो याद आया कि मैं अपना आईडी-कार्ड भूल गई हूं। इसके कारण एग्जामिनर ने मुझे परीक्षा देने से रोक दिया। मैंने उनसे कहा मेरा पैन कार्ड देख लो लेकिन उन्होंने मना कर दिया। तब मैंने अपनी एक्टिंग का इस्तेमाल करते हुए अपने मगरमच्छ के आंसू निकालना शुरू कर दिए जिसे देखर मेरी एग्जामिनर को मुझ पर दया आ गई और उन्होंने मुझे परीक्षा में बैठने की इजाजत दी।

 

Leave a Reply