Cinema

मॉडलिंग से लेकर डेब्यू फिल्म में भी Akshay की बहन ने सहा ‘भेदभाव’!


अक्षय कुमार (Akshay Kumar) अपनी फिल्म ‘रक्षा बंधन’ को लेकर चर्चा में हैं. जिसमें भूमि पेडनेकर समेत पांच और फीमेल कैरेक्टर्स ने लीड रोल प्ले किया है. फिल्म में अक्षय कुमार की बहनों में से एक लक्ष्मी (स्मृति श्रीकांत) ने रंग भेद का खुलासा किया है.

News Nation Bureau | Edited By : Pallavi Tripathi | Updated on: 14 Aug 2022, 03:30:14 PM

smrithi srikanth akshay kumar

स्मृति श्रीकांत ने रंग भेद को लेकर किया ये खुलासा (Photo Credit: Social Media)

नई दिल्ली:  

बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार (Akshay Kumar) फिलहाल अपनी हालिया रिलीज फिल्म ‘रक्षा बंधन’ (Akshay Kumar Rakshabandhan) को लेकर चर्चा में हैं. जिसको लोगों की तरफ से पॉजीटिव रिएक्शन मिल रहा है. इस फिल्म में उनके अलावा भूमि पेडनेकर समेत पांच और फीमेल कैरेक्टर्स ने लीड रोल प्ले किया है. फिल्म में अक्षय कुमार की बहनों का किरदार अदा करने वाली चार एक्ट्रेसेस में से एक लक्ष्मी (स्मृति श्रीकांत) ने हाल ही में चौंकाने वाला खुलासा किया है. जिस बारे में जानकर उनके फैंस काफी दुखी हैं. इस बारे में हम आपको इस आर्टिकल में बताने वाले हैं. 

अगर आपने फिल्म देख ली है, तो आपने देखा ही होगा कि इसमें स्मृति (Smrithi Srikanth) के डार्क स्किन टोन को हाइलाइट किया गया है. ये भी दिखाया गया है कि उनके रंग के चलते उनकी शादी होने में मुश्किल हो रही है. ऐसे में उनके भाई का किरदार निभाने वाले अक्षय और उनकी दूसरी बहनें स्मृति के कलर को फेयर बनाने की पूरी कोशिश करती हैं. आपको बता दें कि केवल उनकी पहली फिल्म में ही नहीं, बल्कि इससे पहले मॉडलिंग के दौरान और घर-परिवार में भी रंग पर उन्हें तमाम कमेंट्स का सामना करना पड़ा है. 

स्मृति (Smrithi Srikanth interview) कहती हैं, “मुझे बचपन से ही अपने रंग पर कमेंट्स का सामना करना पड़ा है. लोग इसका मजाक उड़ाते थे.” इस दौरान जब उनसे पूछा गया कि उन्होंने ये फिल्म कैसे साइन कर दी, जबकि इसमें खुलेतौर पर रंग भेदभाव को दिखाया है. जिस पर उन्होंने तुरंत बोला, “जब मैं इस कैरेक्टर के लिए ऑडिशन दे रही थी, तो मैंने लाइन्स को पढ़ा और महसूस किया कि यह फैक्ट है. ऐसे लोग हैं जो ‘धूप में मत जा काली पड़ जाएगी’ जैसी बातें करते हैं. उनकी यह मानसिकता है. लेकिन एक व्यक्ति के रूप में, मैं अपने बारे में जो महसूस करती हूं, वह दूसरों के विचार से कहीं अधिक जरूरी है.”

“जब मैंने स्क्रिप्ट पढ़ी, तो मुझे कैरेक्टर के बारे में जो पसंद आया, वह यह था कि वह अपनी त्वचा और रंग को लेकर बहुत कॉन्फि़डेंट है. फिल्म में लक्ष्मी कहती हैं, ‘ब्लैक इज बैक’. वह अपने रंग से प्यार करती है और खुद से बहुत खुश है. वह खुद को करीना कपूर मानती है.” जिसके बाद उनसे सवाल किया जाता है कि क्या फिल्म इंडस्ट्री में इस तरह रंग भेदभाव किया जाता है. जिस पर एक्ट्रेस कहती हैं, “कई बार ऑडिशन में, वे आपको आपकी त्वचा के रंग के आधार पर अलग करते हैं. कुछ जगहों पर, आपको ऑडिशन के दौरान ‘हम केवल गोरा रंग चाहते हैं’ जैसी चीजें मिलेंगी. लेकिन फिर मैं यह भी समझती हूं कि यह किरदार की मांग होनी चाहिए.”

उन्होंने (Smrithi Srikanth latest statement) आगे कहा, “लेकिन मुझे याद है कि एक बार मुझे एक मॉडलिंग प्रोजेक्ट पर काम करते हुए बहुत बुरा लगा था. मैंने इसके लिए ऑडिशन दिया और मेरा सेलेक्शन हो गया था. प्रोजेक्ट के दो हिस्से थे और मुझे दोनों के लिए लिया गया था. जबकि बाकी लड़कियों को केवल एक प्रोजेक्ट के लिए शॉर्टलिस्ट किया गया था. इसलिए मैंने अपनी पेमेंट बढ़ाने के लिए कहा. हालांकि, वे यह कहकर पलट गए कि वे सांवली लड़कियों को काम पर नहीं रखते हैं. इसके बावजूद उन्होंने मुझे काम पर रखा. अगर आप प्रोजेक्ट का हिस्सा बनना चाहती हैं तो वे आपको कम पे करेंगे.’





संबंधित लेख

First Published : 14 Aug 2022, 03:30:14 PM



For all the Latest Entertainment News, Bollywood News, Download News Nation Android and iOS Mobile Apps.